विक्रम बेताल की कहानियां, पिण्ड दान का अधिकारी कौन, चोर, ब्राह्मण या राजा

पिण्ड दान का अधिकारी कौन, चोर, ब्राह्मण या राजा

अपनी धुन के पक्के विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और चल दिए तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का काम सौंपा था | थोड़ी …

Read more

अपनी मृत्यु को निकट देख कर भी बालक क्यों हँसा

अपनी मृत्यु को निकट देख कर भी बालक क्यों हँसा

सम्राट विक्रमादित्य ने, अपने धर्म का पालन करते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और चल दिए उस तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का काम सौंपा था | थोड़ी देर बाद …

Read more

प्रेम में सबसे ज्यादा अंधा कौन था, पति, पत्नी या प्रेमी

प्रेम में सबसे ज्यादा अंधा कौन था, पति, पत्नी या प्रेमी

सम्राट विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, तथा अपने धर्म का पालन करते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और चल दिए उसी तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का …

Read more

चारो भाइयों में शेर बनाने का अपराध किसने किया?

चारो भाइयों में शेर बनाने का अपराध किसने किया

सम्राट विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, तथा अपने धर्म का पालन करते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और चल दिए उसी तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का …

Read more

जब विक्रमादित्य को छोटी रानी के अनैतिक यौन सम्बन्ध को देख कर वैराग्य हो गया और उन्होंने प्रचण्ड साधना की

जब विक्रमादित्य को छोटी रानी के अनैतिक यौन सम्बन्ध को देख कर

स्वर्ण सिंहासन की छब्बीसवीं पुतली मृगनयनी ने राजा भोज को बताया कि राजा विक्रमादित्य न सिर्फ अपना राजकाज पूरे मनोयोग से चलाते थे, बल्कि त्याग, दानवीरता, दया, वीरता इत्यादि अनेक श्रेष्ठ गुणों के वे धनी थे । वे किसी तपस्वी …

Read more

उन्मादिनी के वियोग में प्राण गवाने वाले राजा और सेनापति में अधिक साहसी कौन

उन्मादिनी के वियोग में प्राण गवाने वाले राजा और सेनापति में अधिक साहसी कौन

राजा विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और बिना कुछ बोले चल दिए उसी तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का काम सौंपा था | …

Read more

विक्रम बेताल की कहानियां, सबसे महान काम किसने किया?

सबसे महान काम किसने किया

राजा विक्रमादित्य ने, असीम धैर्य का परिचय देते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और चल दिए उसी तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का काम सौंपा था | थोड़ी देर बाद …

Read more

अपनी मृत्यु से पहले, चोर जोर-जोर से क्यों रोया और फिर क्यों हँसा

अपनी मृत्यु से पहले, चोर जोर-जोर से क्यों रोया और फिर क्यों हँसा

अपनी धुन के पक्के राजा विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, वापस उसी पेड़ पर लौटने वाले बेताल को फिर से अपनी पीठ पर लादा और चल दिए उसी तान्त्रिक के पास, जिसने उन्हें लाने का काम सौंपा …

Read more

विक्रमादित्य की कहानी

विक्रमादित्य की कहानी

विक्रमादित्य के स्वर्ण सिंहासन की आठवीं पुतली पुष्पवती ने राजा भोज को जो कथा सुनाई वह इस प्रकार थी | सम्राट विक्रमादित्य अद्भुत कला-पारखी थे । उन्हें श्रेष्ठ से श्रेष्ठ कलाकृतियों से अपने महल को सजाने का शौक था । …

Read more

विक्रम बेताल की कहानियां-सबसे बड़ा प्रश्न, पति कौन ?

VIKRAM BETAL KI KAHANIYAN, PATI KAUN

बेताल ने विक्रमादित्य को कथा सुनाना प्रारंभ किया | प्राचीन काल में यमुना नदी के किनारे धर्मस्थान नामक एक समृद्ध नगर हुआ करता था । उस नगर में गणाधिप नाम का राजा राज्य करता था। उसी नगर में केशव नाम …

Read more