जब प्रभु श्याम ने गार्ड साहब की नौकरी की

जब प्रभु श्याम ने गार्ड साहब की नौकरी की

यह प्रश्न सदियों से चला आ रहा है कि इस सृष्टि में कौन बड़ा है ? भक्त या भगवान ? सभी व्यक्तियों के इस संबंध में अलग-अलग मत हैं। अधिकांश लोगों का यही कहना है कि भगवान बड़े हैं तो …

Read more

समुद्र मंथन

समुद्र मंथन

समुद्र मंथन की कहानी पौराणिक काल की समुद्र मंथन की कहानी वास्तव में वह रहस्यमय कथा है जिसका रहस्य समुद्र से भी अधिक गहरा है। कभी-कभी इस घटना को काल्पनिक मानने का मन करता है। क्योंकि समुद्र मंथन में जिन …

Read more

जरत्कारु ऋषि की कथा और आस्तिक मुनि का जन्म

जरत्कारु ऋषि की कथा और आस्तीक का जन्म 1

शौनक ऋषि ने पूछा, सूतनन्दन! आपने जिन जरत्कारु ऋषि का नाम लिया है, उनका जरत्कारु नाम क्यों पड़ा था? उनके नाम का अर्थ क्या है और उनसे आस्तिक का जन्म कैसे हुआ? उग्रश्रवा जी ने कहा, ‘जरा’ शब्द का अर्थ …

Read more

राजा परीक्षित की मृत्यु कैसे हुई

राजा परीक्षित

श्रीशौनक जी ने कहा-सूतनन्दन! राजा जनमेजय ने उत्तंक की बात सुनकर अपने पिता परीक्षित की मृत्यु के सम्बन्ध में जो पूछताछ की थी, उसका आप विस्तार से वर्णन कीजिये। उग्रश्रवा जी ने कहा-राजा जनमेजय ने अपने मन्त्रियों से पूछा कि …

Read more

जन्मेजय का नाग यज्ञ

naag yagya

उग्रश्रवा जी कहते हैं, ‘शौनकादि ऋषियो! अपने पिता की मृत्यु का इतिहास सुनकर जनमेजय को बड़ा दुःख हुआ। वे क्रुद्ध होकर हाथ-से-हाथ मलने लगे। शोक के कारण उनकी लम्बी और गरम साँस चलने लगी। आँखें आँसू से भर गयीं। वे …

Read more

आस्तिक मुनि का मंत्र क्या है, जन्मेजय के सर्प यज्ञ में क्या हुआ, तक्षक की जान कैसे बची

सर्प यज्ञ का निश्चय और आरम्भ

उग्रश्रवा जी कहते हैं, जनमेजय के यज्ञ में सर्पो का हवन होते रहने से बहुत से सर्प नष्ट हो गये केवल थोड़े से ही बच रहे। इस से वासुकि नाग को बड़ा कष्ट हुआ। घबराहट के मारे उनका हृदय व्याकुल …

Read more

क्या देवता पृथ्वी पर उतरे थे

भूभार हरण के लिये देवताओं के अवतार ग्रहण के निश्चय

वैशम्पायन जी कहते हैं, जनमेजय! जमदग्निनन्दन परशुराम ने इक्कीस बार पृथ्वी के क्षत्रियों का संहार किया था। यह काम कर के वे महेन्द्र पर्वत पर चले गये और वहाँ तपस्या करने लगे। क्षत्रियों का संहार हो जाने पर क्षत्रियों की …

Read more

अमेरिकी राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन की वह कहानी जिसे जानकर आपकी आँखे भर आयेंगी

abraham_lincoln

क्या आपको मालूम है़ कि पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन अपने शुरुआती दिनों में इतने ग़रीब थे कि एक बार उनको, केवल एक पुस्तक पढ़ने के लिए 10 दिन तक मजदूरी करनी पड़ी। जी हाँ, यह सच है़। गरीबी, मायूसी, …

Read more

वह भारत का वीर चार सौ किलो की तलवार उठाकर लड़ता था

lorik manjari story

इतिहास साक्षी है कि भारत में एक से बढ़कर एक ताकतवर वीरों ने जन्म लिया है। आज हम उस एक वीर की बात करने जा रहे हैं जिसकी शक्तिशाली भुजाओं की कोई मिसाल नहीं थी। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि …

Read more

लॉकडाउन का भगवान

लॉकडाउन का भगवान

बरेली के सुभाष नगर में एक परिवार किराये पर रहता था। परिवार में पति-पत्नी और दो बच्चे थे। परिवार का मुखिया गोवर्धन एक रिक्शा चालक था। वह ऑटो रिक्शा चलाकर अपना और अपने परिवार का पालन पोषण करता था। लेकिन …

Read more