धर्मं

क्या वेदों, उपनिषदों, एवं ब्राह्मण ग्रंथों में भी भगवान के अवतार का वर्णन हुआ है

क्या वेदों, उपनिषदों, एवं ब्राह्मण ...

अवतार शब्द किससे बना है उपसर्गपूर्वक तृ धातु से ‘अवतार’ शब्द बना है। शाब्दिक रूप से समझे तो, 'उच्च स्थान से नीचे स्थान पर उतरना', इसे ‘अवतार’ कहते हैं। अवतार किसका? कब? और किसलिये होता है? इन प्रश्नों के उत्तर भगवान श्री कृष्ण ने भगवदगीता (4।7-8) में इस प्रकार दिये हैं- "हे अर्जुन! जब-जब धर्म की ग्लानि (हानि) होती है और अधर्म की वृद्धि होती है, तब-तब मैं जन्म ...

अवतार शब्द किससे बना है उपसर्गपूर्वक तृ More...

bhagwaan ram

भगवान राम के अवतार लेने का रहस्य

भगवान् राम के अवतार के सम्बन्ध में केवल आम जनमानस को ही कौतूहल नहीं होता, अपितु ...

भगवान् राम के अवतार के सम्बन्ध में केवल More...

भगवान राम और भगवान कृष्ण के अवतारों का विशिष्ट वर्णन

भगवान राम और भगवान कृष्ण के अवतारों का विशिष्ट वर्णन

वैदिक ग्रंथों के अनुसार वेद अनंत कोटि ब्रह्मण्ड नायक भगवान के निःश्वास से उद्भूत ...

वैदिक ग्रंथों के अनुसार वेद अनंत कोटि ब्रह्मण्ड More...

क्या परम पिता परमात्मा नित्य अवतार लेते हैं

क्या परम पिता परमात्मा नित्य अवतार लेते हैं

काल बड़ा ही निर्दयी है | जैसे जैसे समय आगे बढ़ता है, वैसे वैसे ही पल-प्रहर, दिन-रात, ...

काल बड़ा ही निर्दयी है | जैसे जैसे समय आगे More...

काल के भी काल अर्थात महाकाल के रूप में भगवान का अवतार

काल के भी काल अर्थात महाकाल के रूप में भगवान का अवतार

भगवान समस्त जगत के समस्त प्राणियों के नियामक हैं । उनकी लीला एवं उनके संकल्पों ...

भगवान समस्त जगत के समस्त प्राणियों के नियामक More...

भगवान के अवतार का महत्व

भगवान के अवतार का महत्व

वृन्दावन, मथुरा एवं द्वारकापुरी में जो-जो अवतार लीलाएं हुई हैं तथा प्राचीन मुनि-ऋषियों ...

वृन्दावन, मथुरा एवं द्वारकापुरी में जो-जो More...

श्री भगवान का चतुर्व्यूह रूप क्या है, उनके अवतार भेद क्या हैं, उनसे जीव की उत्पत्ति कैसे होती है

श्री भगवान का चतुर्व्यूह रूप क्या है, उनके अवतार भेद क्या हैं, उनसे जीव की उत्पत्ति कैसे होती है

अवतार का अर्थ सामान्य जन्म से नहीं है। अवतारी की तो जन्म-कर्म-जैसी समस्त लौकिक ...

अवतार का अर्थ सामान्य जन्म से नहीं है। More...

क्या कपिल मुनि के नेत्रों से ही राजा सगर के साठ हज़ार पुत्र जल कर भस्म हो गए थे

क्या कपिल मुनि के नेत्रों से ही राजा सगर के साठ हज़ार पुत्र जल कर भस्म हो गए थे

यह सत्ययुग की बात है | अत्यन्त प्राचीनकाल में ‘स्यूमरश्मि’ नाम के एक ऋषि हुआ करते ...

यह सत्ययुग की बात है | अत्यन्त प्राचीनकाल More...

भगवान शिव के अटठाईस योगेश्वर और महाकाल आदि दस अवतार क्या हैं

भगवान शिव के अटठाईस योगेश्वर और महाकाल आदि दस अवतार क्या हैं

जिस प्रकार से प्रत्येक मन्वन्तर के प्रत्येक द्वापर युग में भगवान नारायण स्वयं ...

जिस प्रकार से प्रत्येक मन्वन्तर के प्रत्येक More...

भगवान शिव के एकादश रूद्र अवतार

भगवान शिव के एकादश रूद्र अवतार

पूर्वकाल की बात है, एक बार इन्द्र आदि समस्त देवता दैत्यों से पराजित और भयभीत होकर ...

पूर्वकाल की बात है, एक बार इन्द्र आदि समस्त More...