क्या वेदों, उपनिषदों, एवं ब्राह्मण ग्रंथों में भी भगवान के अवतार का वर्णन हुआ है

क्या वेदों, उपनिषदों, एवं ब्राह्मण ग्रंथों में भी भगवान के अवतार का वर्णन हुआ है

अवतार शब्द किससे बना है उपसर्गपूर्वक तृ धातु से ‘अवतार’ शब्द बना है। शाब्दिक रूप से समझे तो, ‘उच्च स्थान …

Read moreक्या वेदों, उपनिषदों, एवं ब्राह्मण ग्रंथों में भी भगवान के अवतार का वर्णन हुआ है

भगवान राम और भगवान कृष्ण के अवतारों का विशिष्ट वर्णन

भगवान राम और भगवान कृष्ण के अवतारों का विशिष्ट वर्णन

वैदिक ग्रंथों के अनुसार वेद अनंत कोटि ब्रह्मण्ड नायक भगवान के निःश्वास से उद्भूत हैं। इस आशय को गोस्वामी तुलसीदास …

Read moreभगवान राम और भगवान कृष्ण के अवतारों का विशिष्ट वर्णन

क्या परम पिता परमात्मा नित्य अवतार लेते हैं

क्या परम पिता परमात्मा नित्य अवतार लेते हैं

काल बड़ा ही निर्दयी है | जैसे जैसे समय आगे बढ़ता है, वैसे वैसे ही पल-प्रहर, दिन-रात, माह-वर्ष, युग-कल्प आदि …

Read moreक्या परम पिता परमात्मा नित्य अवतार लेते हैं

काल के भी काल अर्थात महाकाल के रूप में भगवान का अवतार

काल के भी काल अर्थात महाकाल के रूप में भगवान का अवतार

भगवान समस्त जगत के समस्त प्राणियों के नियामक हैं । उनकी लीला एवं उनके संकल्पों का रहस्य, माया में पड़ा …

Read moreकाल के भी काल अर्थात महाकाल के रूप में भगवान का अवतार

भगवान के अवतार का महत्व

भगवान के अवतार का महत्व

वृन्दावन, मथुरा एवं द्वारकापुरी में जो-जो अवतार लीलाएं हुई हैं तथा प्राचीन मुनि-ऋषियों के द्वारा सूचित प्रतियुगोचित जो-जो लीला अवतार …

Read moreभगवान के अवतार का महत्व

श्री भगवान का चतुर्व्यूह रूप क्या है, उनके अवतार भेद क्या हैं, उनसे जीव की उत्पत्ति कैसे होती है

श्री भगवान का चतुर्व्यूह रूप क्या है, उनके अवतार भेद क्या हैं, उनसे जीव की उत्पत्ति कैसे होती है

अवतार का अर्थ सामान्य जन्म से नहीं है। अवतारी की तो जन्म-कर्म-जैसी समस्त लौकिक क्रियाएं दिव्य होती हैं। गीता में …

Read moreश्री भगवान का चतुर्व्यूह रूप क्या है, उनके अवतार भेद क्या हैं, उनसे जीव की उत्पत्ति कैसे होती है

क्या कपिल मुनि के नेत्रों से ही राजा सगर के साठ हज़ार पुत्र जल कर भस्म हो गए थे

क्या कपिल मुनि के नेत्रों से ही राजा सगर के साठ हज़ार पुत्र जल कर भस्म हो गए थे

यह सत्ययुग की बात है | अत्यन्त प्राचीनकाल में ‘स्यूमरश्मि’ नाम के एक ऋषि हुआ करते थे | वो दिव्य …

Read moreक्या कपिल मुनि के नेत्रों से ही राजा सगर के साठ हज़ार पुत्र जल कर भस्म हो गए थे

भगवान शिव के अटठाईस योगेश्वर और महाकाल आदि दस अवतार क्या हैं

भगवान शिव के अटठाईस योगेश्वर और महाकाल आदि दस अवतार क्या हैं

जिस प्रकार से प्रत्येक मन्वन्तर के प्रत्येक द्वापर युग में भगवान नारायण स्वयं वेदव्यास के रूप में अवतार लेकर मनुष्यों …

Read moreभगवान शिव के अटठाईस योगेश्वर और महाकाल आदि दस अवतार क्या हैं