kahani

विक्रम बेताल की कहानियां, किसका पुण्य बड़ा, राजा का या सेवक का

विक्रम बेताल की कहानियां, किसका ...

राजा विक्रमादित्य जब बेताल को पीठ पर लाद कर ले चले तो मार्ग में बेताल ने उन्हें अगली कथा सुनायी | बेताल ने कहा मिथलावती नाम की एक नगरी थी । उसमें गुणधिप नाम का राजा राज्य करता था । उसकी सेवा करने के लिए दूर देश से एक राजकुमार आया। वह राजा से मिलने की बराबर कोशिश करता रहा, लेकिन राजा से उनकी भेंट न हुई । जो कुछ वह अपने साथ लाया था, वह सब बराबर हो गया। एक ...

राजा विक्रमादित्य जब बेताल को पीठ पर लाद More...

विक्रम बेताल की कहानियां-पत्नी किसकी

विक्रम बेताल की कहानियां, पत्नी किसकी

बेताल ने राजा विक्रमादित्य को कथा सुनाने का क्रम जारी रखा | कर्मपुर नाम की एक ...

बेताल ने राजा विक्रमादित्य को कथा सुनाने More...

विक्रम बेताल की कहानियां, कन्या का असली वर कौन हुआ

विक्रम बेताल की कहानियां, कन्या का असली वर कौन हुआ

राजा विक्रमादित्य की पीठ पर सवार होते ही बेताल ने उनसे कहा "तुम भी बड़े हठी हो राजन, ...

राजा विक्रमादित्य की पीठ पर सवार होते ही More...

विक्रम बेताल की कहानियां, ज्यादा पापी कौन

विक्रम बेताल की कहानियां,ज्यादा पापी कौन स्त्री या पुरुष

बेताल ने विक्रमादित्य को अपनी प्रतिज्ञा याद दिलाते हुए अगली कहानी सुनाना प्रारम्भ ...

बेताल ने विक्रमादित्य को अपनी प्रतिज्ञा More...

विक्रम बेताल की कहानियां-सबसे ज्यादा पुण्य किसका

विक्रम बेताल की कहानियां, राजा, नौकर और उसके परिवार में सबसे ज्यादा पुण्य किसका ?

राजा विक्रमादित्य भी अपनी धुन के पक्के थे | बेताल ने जैसे ही उनका कन्धा छोड़ा और ...

राजा विक्रमादित्य भी अपनी धुन के पक्के More...

योगी की सिद्धि क्यों नष्ट हुई

योगी की सिद्धि क्यों नष्ट हुई

सम्राट विक्रमादित्य ने, असीम धैर्य का परिचय देते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल ...

सम्राट विक्रमादित्य ने, असीम धैर्य का परिचय More...

विक्रम बेताल की अंतिम कहानी

विक्रम बेताल की अंतिम कहानी

अपनी धुन के पक्के सम्राट विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, वापस पेड़ ...

अपनी धुन के पक्के सम्राट विक्रमादित्य More...

पिण्ड दान का अधिकारी कौन, चोर, ब्राह्मण या राजा

विक्रम बेताल की कहानियां, पिण्ड दान का अधिकारी कौन, चोर, ब्राह्मण या राजा

अपनी धुन के पक्के विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, वापस पेड़ पर लौटने ...

अपनी धुन के पक्के विक्रमादित्य ने, बिलकुल More...

अपनी मृत्यु को निकट देख कर भी बालक क्यों हँसा

अपनी मृत्यु को निकट देख कर भी बालक क्यों हँसा

सम्राट विक्रमादित्य ने, अपने धर्म का पालन करते हुए, वापस पेड़ पर लौटने वाले बेताल ...

सम्राट विक्रमादित्य ने, अपने धर्म का पालन More...

प्रेम में सबसे ज्यादा अंधा कौन था, पति, पत्नी या प्रेमी

प्रेम में सबसे ज्यादा अंधा कौन था, पति, पत्नी या प्रेमी

सम्राट विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित न होते हुए, तथा अपने धर्म का पालन करते ...

सम्राट विक्रमादित्य ने, बिलकुल भी विचलित More...