क्या कर्ण ने महाभारत युद्ध में रहस्यमय भार्गवास्त्र का प्रयोग किया था जिससे करोड़ो, अरबों बाण निकल रहे थे और उसने पाण्डव सेना में तबाही मचा दी थी तथा यह सब देख कर कृष्ण और अर्जुन को भी वहाँ से हट जाना पड़ा था

क्या कर्ण ने महाभारत युद्ध में रहस्यमय भार्गवास्त्र का प्रयोग किया था

महाभारत युद्ध में अर्जुन के महान पराक्रम को देख कर उसी समय अश्वत्थामा रथियों की बहुत बड़ी सेना साथ लेकर, जहाँ अर्जुन खड़े थे, वहाँ ही सहसा आ धमका । उसे आते देख अर्जुन ने एकबारगी उसका बढ़ाव रोक दिया …

Read more

महाभारत में दोनों पक्ष, कौरव और पाण्डव की सेनाओं का भयंकर युद्ध हुआ तथा भीम ने अतुलनीय पराक्रम दिखाया

कौरव और पाण्डव की सेनाओं का भयंकर युद्ध

महाभारत युद्ध के बीच में धृतराष्ट्र ने संजय से पूछा “संजय ! पाण्डवों और पांचालों की मार खाने से जब हमारी सेना दुःखी होकर भागने लगी, उस समय कौरवों ने क्या किया”? संजय ने कहा-महाराज ! उस समय महाबाहु भीमसेन …

Read more

महाभारत युद्ध में, भगवान् श्रीकृष्ण द्वारा अर्जुन से कौरवों के आक्रमण तथा भीम के पराक्रम का वर्णन करना

श्रीकृष्ण द्वारा अर्जुन से भीम के पराक्रम का वर्णन

एक बार महाभारत युद्ध में चलते समय राह में श्रीकृष्ण ने अर्जुन से युधिष्ठिर को दिखाते हुए कहा “पाण्डुनन्दन ! ये हैं तुम्हारे भाई युधिष्ठिर । देखो, इन्हें मारने के लिये अत्यन्त बलवान् और महान् धनुर्धर कौरव-योद्धा बड़ी तेजी के …

Read more

क्या महाभारत के युद्ध में युधिष्ठिर को कर्ण ने पराजित किया था और क्या युधिष्ठिरका जीवन, कर्ण से, राजा शल्य ने बचाया था

क्या महाभारत के युद्ध में युधिष्ठिर को कर्ण ने पराजित किया था

महाभारत युद्ध का आँखों देखा हाल बताते हुए संजय धृतराष्ट्र से कहते हैं “राजन् ! दूसरी ओर से युधिष्ठिर को आते देख आपका पुत्र दुर्योधन क्रोध में भर गया । उसने अपनी आधी सेना साथ ले सहसा निकट जाकर उन्हें …

Read more

महाभारत में अश्वत्थामा ने क्या प्रतिज्ञा की थी, अश्वत्थामा से युद्ध करते हुए जब धृष्टद्युम्न के प्राण संकट में पड़े तो उसे किसने बचाया

महाभारत में अश्वत्थामा ने क्या प्रतिज्ञा की थी

महाभारत का युद्ध अपने चरम पर था, उसी समय दुर्योधन ने कर्ण के पास जाकर कहा “राधानन्दन ! यह युद्ध स्वर्ग का खुला हुआ दरवाजा है, जो हमें स्वतः प्राप्त हो गया है । सौभाग्यशाली क्षत्रियों को ही ऐसा युद्ध …

Read more

क्या महाभारत युद्ध में अश्वत्थामा अर्जुन पर भी भारी पड़ा था

क्या महाभारत युद्ध में अश्वत्थामा अर्जुन पर भी भारी पड़ा था

महाभारत युद्ध में एक ओर तो कौरव और पांडव वीरों में भयंकर संग्राम चल रहा था और दूसरी ओर अर्जुन संशप्तक-सेना का विनाश कर रहे थे । शत्रुओं को जीतकर विजयी अर्जुन ने भगवान् श्रीकृष्ण से कहा “जनार्दन ! ये …

Read more

महाभारत युद्ध में कर्ण ने जैसा पराक्रम किया, वैसा न तो भीष्म ने, न द्रोण ने और न दूसरे योद्धाओं ने ही कभी किया था

महाभारत युद्ध में नारायणी सेना और संशप्तको का संहार करने में अर्जुन ने जिस पराक्रम का परिचय दिया उससे कौरव सेना भयभीत हो गयी | इस प्रकार कौरव-सेना को अर्जुन की मार से पीड़ित होती देख कृतवर्मा, कृपाचार्य, अश्वत्थामा, उलूक, …

Read more

क्या महारथी कर्ण किसी ब्राह्मण के द्वारा दिए गए शाप की वजह से महाभारत युद्ध में मारे गए

क्या महारथी कर्ण किसी ब्राह्मण के द्वारा दिए गए शाप की वजह से महाभारत युद्ध में मारे गए

महाभारत युद्ध में जब कर्ण और शल्य का वाकयुद्ध अपने चरम पर पहुँच गया तो शल्य की अप्रिय बातें सुनकर कर्ण ने कहा “शल्य ! अर्जुन का रथ हाँकने वाले कृष्ण के बल और अर्जुन के दिव्यास्त्रों का जैसा मुझे …

Read more

कौए और हंस की कथा जो महाभारत में राजा शल्य ने महान धनुर्धर कर्ण को सुनाई

blank

महाभारत युद्ध के सत्रहवें दिन जब कर्ण और शल्य के बीच तीखी नोक-झोंक हो रही थी तब कर्ण के क्रोधपूर्वक कहे गए अभद्र वचन सुनकर राजा शल्य ने उसे एक दृष्टान्त सुनाते हुए कहा “कुलकलंक कर्ण ! मैं तुम्हें एक …

Read more

महाभारत में अर्जुन ने कौरवों की नारायणी सेना और संशप्तकों का किस प्रकार संहार किया

महाभारत युद्ध का आँखों देखा हाल सुनाते हुए संजय धृतराष्ट्र से कहते हैं-महाराज ! जिस समय क्षत्रियों का संहार करने वाला वह भयानक युद्ध चल रहा था, उसी समय दूसरी ओर बड़े जोर-जोर से गाण्डीव धनुष की टंकार सुनायी देती …

Read more