पंचतन्त्र की कहानियां-शेरनी का तीसरा पुत्र सियार का बेटा

पंचतन्त्र की कहानियां-शेरनी का तीसरा पुत्र सियार का बेटा

एक वन में एक शेर अपनी शेरनी के साथ रहता था । दोनों में परस्पर बड़ा प्रेम था । दोनों शिकार के लिए साथ-साथ जाते और शिकार मारकर साथ ही खाया करते थे । दोनों एक-दूसरे पर अधिक भरोसा और …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियां-कौवा कौवी और सांप की मृत्यु

पंचतन्त्र की कहानियां-कौवा कौवी और सांप की मृत्यु

एक वृक्ष के ऊपर एक कौवा घोंसला बनाकर अपनी पत्नी के साथ रहता था | दोनों में बड़ा प्रेम था । इसलिए दोनों बड़े सुख के साथ रहते थे । दोनों रोज खाने की खोज में साथ-साथ उड़ते थे, और …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियाँ-स्वामिभक्त नेवला की कहानी

स्वामिभक्त नेवला

एक गांव में एक किसान रहता था । किसान बड़ा परिश्रमी और दयालु था । वह मनुष्य के प्रति तो दया दिखाता ही था, जीव-जंतुओं के प्रति भी दया का भाव रखता था | किसान के कुटुंब में वह, उसकी …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियाँ-शेर का मंत्री सियार और मूर्ख गधा

जंगल में एक शेर रहता था । शेर वृद्ध हो गया था, वह शिकार करने में असमर्थ हो गया था, अतः उसे कभी-कभी भूखा ही रह जाना पड़ता था । शेर ने सोचा, इस तरह कैसे निर्वाह होगा ? कोई …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियाँ-ब्राह्मण और तीन धूर्त की कहानी

पंचतंत्र की कहानियां-ब्राह्मण और तीन धूर्त

एक गांव में एक ब्राह्मण रहता था | वह पुरोहिताई करता था । पुरोहिताई से जो कुछ प्राप्त हो जाता था, उसी से अपना और अपने कुटुंबियों का निर्वाह करता था । एक दिन ब्राह्मण एक अन्य गांव में पूजा …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियां-राजा का रक्त मच्छर ने चूस कर खटमल के लिए मुसीबत खड़ी कर दी

एक खटमल था । उसके बाल-बच्चे भी थे । बाल-बच्चों के भी बाल बच्चे थे । खटमल का बहुत बड़ा कुटुंब था । वह अपने बहुत बड़े कुटुंब के साथ राजा के पलंग में निवास करता था । खटमल बड़ा …

Read more

शेर और खरगोश की कहानी

buddhiman khargosh

शेर और बुद्धिमान खरगोश की कहानी एक जंगल में एक घमंडी शेर रहता था । शेर बड़ा बलवान था । उसे अपने बल का बड़ा गर्व था । वह प्रतिदिन जंगल के दर्जनों जानवरों को मार डालता था । कुछ …

Read more

पंचतंत्र की कहानियां-तीतर खरगोश और ढोंगी बिल्ले के न्याय की कहानी

पंचतंत्र की कहानियां-तीतर खरगोश और ढोंगी बिल्ले का न्याय

बहुत दिनों पहले की बात है, एक वृक्ष की जड़ के पास बिल में तीतर निवास करता था । वृक्ष पर घोंसले बनाकर और भी पक्षी रहते थे । तीतर और अन्य पक्षियों में परस्पर बड़ा प्रेम था | सब …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियाँ-बुद्धिमान सियार और सिंह की कहानी

एक जंगल में एक सिंह रहता था । सिंह का नाम खरनखर था । वह बड़ा बलवान था | वह जब दहाड़ता था तो जंगल का कोना-कोना गूंज उठता था । जंगल के छोटे-बड़े सभी जानवर उससे डरा करते थे …

Read more

पंचतन्त्र की कहानियाँ-बुद्धिमान की हमेशा विजय ही होती है

पंचतन्त्र की कहानियाँ-बुद्धिमान की हमेशा विजय होती है

एक वन में हाथियों का एक झुंड रहता था । झुंड का एक सरदार था । उसे यूथपति या गजराज कहते थे । गजराज विशालकाय था, लंबी सूंड़ थी और लंबे तथा मोटे दांत थे । खंभे के समान मोटे-मोटे …

Read more