रहस्य

वो श्राप जिससे एक क्रूर जज तड़प-तड़प कर मरा

वो श्राप जिससे एक क्रूर जज तड़प-तड़प ...

हमारे यहाँ एक प्रसिद्ध कहावत है 'मुई खाल की श्वांस सो, सार भस्म हो जाय' अर्थात कभी किसी निरीह, निर्दोष असहाय को नहीं सताना चाहिए अन्यथा उसके श्राप से आपका सब कुछ नष्ट हो सकता | इस कहावत को चरितार्थ किया लिपजिम जर्मनी के न्यायाधीश “बेनेडिक्ट कारजो”  ने | बेनेडिक्ट कारजो का जन्म सन 1620 में हुआ था और उसकी मृत्यु सन 1666 में, एक भयंकर श्राप से तड़प-तड़प कर हुई | बेनेडिक्ट ...

हमारे यहाँ एक प्रसिद्ध कहावत है ‘मुई More...

रेने देकार्ते का विचित्र स्वप्न

रेने देकार्ते का विचित्र स्वप्न

प्रसिद्ध विद्वान रेने देकार्ते का जीवन कई पैरानोर्मल घटनाओं का साक्षी रहा है ...

प्रसिद्ध विद्वान रेने देकार्ते का जीवन More...

जब स्वप्न ने ठीक किया रोग

इतिहास में कुछ विस्मयकारी घटनाओं के उदहारण ऐसे हैं जो स्तब्ध कर देते हैं | लिवरपूल ...

इतिहास में कुछ विस्मयकारी घटनाओं के उदहारण More...