प्रेतात्मा की गवाही, पूरी दुनिया ने मानी

प्रेतात्मा-की-गवाही-पूरी-दुनिया-ने-मानी
प्रेतात्मा की गवाही, पूरी दुनिया ने मानी

हम जिस दुनिया में रहते हैं, वहाँ की अदालतों में ज़िन्दा लोगों की गवाही मान्य है | दुनिया में बहुत ही कम, लेकिन कुछ ऐसे मामले जरूर हैं जिनमे अदालतों ने किसी मरे हुए व्यक्ति की प्रेतात्मा की गवाही को मान्यता दी | प्रस्तुत घटना ऐसी ही एक असामान्य परिस्थिति की कहानी है |

सत्रहवीं शताब्दी में इंग्लैंड में एक पादरी हुआ करते थे जेरेंसी टेलर | उन्होंने अपने एक्सोर्सिस्म से सम्बंधित तथा कुछ और असामान्य अनुभवों को अपने संस्मरण के रूप में प्रकाशित करवाया | उस पुस्तक में उन्होंने एक प्रेतात्मा का, अपना आँखों देखा विवरण लिखा है |

ब्रह्माण्ड के चौदह भुवन, स्वर्ग और नर्क आदि अन्यान्य लोकों का वर्णन

फ़ादर जेरेंसी लिखते हैं कि एक बार जब वह घोड़े पर सवार हो कर वेटफ़ास्ट से डील्सगेरो, जा रहे थे तो अचानक से उन्हें अहसास हुआ कि कोई अजनबी व्यक्ति, उन्ही के घोड़े पर उनके पीछे सवार हो गया है |

आश्चर्य से चकित हुए फ़ादर जेरेंसी ने तिरछी नज़रों से पीछे की तरफ देखा, उन्हें अपने अजनबी सहयात्री का चेहरा स्पष्ट नहीं हुआ लेकिन उसके दुबले-पतले और छरहरे शरीर का आभास हो गया | उन्होंने उस अजनबी से उसका परिचय और अचानक से, बिना अनुमति के, उनके घोड़े पर सवार होने का उद्देश्य पूछा |

फ़ादर जेरेंसी के पीछे बैठे अजनबी ने अपना नाम हेडकजेम्स बताया और उनसे अनुरोध करते हुए कहा कि “आप कृपया मेरी विधवा पत्नी तक यह सन्देश ज़रूर पहुँचा दें कि उसका नया पति जल्दी ही उसके साथ धोखा करने वाला है | और जितने जल्दी हो सके वह उससे बचे” |

मृत्यु के बाद अपनों का प्राकट्य, एक रहस्यमय अनुभव

अब तक फ़ादर, अपने पीछे बैठे घुड़सवार के प्रेतात्मा होने के प्रति आश्वस्त हो चुके थे | लेकिन फिर भी उन्होंने उससे उसकी पत्नी के घर का पता पूछा और उसके काम को पूरा करने का उसे आश्वासन दिया |

पादरी ने उसके बताये हुए नाम पते पर पहुँच कर उसकी पत्नी से मुलाकात की और उसके पति की दिवंगत आत्मा का सन्देश उस तक पहुँचा दिया | पर जैसी की उम्मीद थी, उस व्यक्ति, हेडकजेम्स, की पत्नी ने पादरी की बातों पर न तो ध्यान दिया और ना ही विश्वास किया |

कुछ दिनों बाद उस स्त्री की हत्या हो गयी | इसे संयोग कहे या प्राकृतिक न्याय, पुलिस को भी उस स्त्री की हत्या में उसके पति पर ही सन्देह हुआ | पुलिस को संदेह था कि उस स्त्री की हत्या, उसके नए पति ने उसकी चल-अचल संपत्तियों को हड़पने के लिए की है | इस सन्दर्भ में पादरी जेरेंसी टेलर ने स्वयं पुलिस कार्यालय जा कर अपनी, हेडकजेम्स के प्रेत से मुलाकात एवं वार्ता को साक्ष्य के रूप में प्रस्तुत किया |

गौ सेवा से प्रेत मुक्ति की कथा

संदेह पुख्ता होने पर पुलिस ने उसे गिरफ़्तार किया | मुक़द्दमा कैरिक फोरेंस के न्यायालय में चला | लेकिन अदालत ने पादरी जेरेंसी टेलर की गवाही को प्रामाणिक नहीं माना | भरी अदालत में न्यायाधीश के उक्त वक्तव्य के बाद कि “अगर ऐसा है तो मृतात्मा को अदालत में उपस्थित हो कर अपनी बात कहनी चाहिए”, चारो तरफ़ सन्नाटा छा गया |

अचानक उस सन्नाटे को चीरती हुई एक बिजली के कड़कने जैसी आवाज आई और ‘अदृश्य’ से एक हाँथ निकला | उस हाँथ ने अदालत की डेस्क (मेज) पर तीन बार जोर-जोर से थपकी दी | इस दृश्य को देखकर न्यायाधीश समेत वहाँ उपस्थित सभी लोग आतंकित हो गए | चीख़ पुकार मच गयी | लेकिन थोड़ी ही देर में, लोगो के संभल पाने से पहले ही, अदृश्य से निकला वह हाँथ अदृश्य में ही समा गया |

सगी बहनों, जोआना और जैकलीन का पुनर्जन्म जुड़वां बच्चियों के रूप में

कुछ देर पहले अचानक से असामान्य हुई परिस्थितियाँ अब सामान्य थी लेकिन अदालत ने अपना फ़ैसला लिख दिया था |अपनी पत्नी की हत्या के आरोप में उस व्यक्ति को अदालत ने मुख्य दोषी मानते हुए समुचित दण्ड दिया | इतिहास में शायद पहली बार किसी प्रेतात्मा की गवाही प्रामाणिक मानी गयी |