सूक्ष्म जगत के अनसुलझे रहस्य


909घटना 23 सितम्बर 1880 की है। टेनेसी (यू. एस. ए.) के एक किसान डेविड लैंगर का फार्म हाउस समनर काउण्टी में गैलेटीन टाउनशिप से लगभग 20 किलोमीटर दूर था।उस दिन दोपहर को वह अपनी पत्नी और दो बच्चों के सामने अपने लगभग चालीस एकड़ क्षेत्र में फैले खेत में गया और देखते−देखते अचानक न जाने कहाँ गायब हो गया। जब यह सब कुछ हुआ, तब उसका भाई फार्म हाउस की ओर बग्घी लिए आ रहा था।

उसने देखा कि डेविड चरागाह के मध्य से गुजर रहा है। वह उसे पुकारना चाह ही रहा था कि दूसरे ही पल डेविड गायब हो चुका था, मानो जमीन ने उसे निगल लिया हो। भाई और उसकी पत्नी तुरन्त बदहवास से उस स्थान पर पहुँचे, पर वहाँ जमीन में किसी प्रकार की कोई दरार नहीं दिखाई पड़ी जिससे यह अनुमान लगाया जा सके कि वह खेत में धँस गया हो और न ही ऐसा कोई दूसरा चिह्न मौजूद था, जिससे उसकी गायब होने के बारे में कोई अंदाज लगाया जा सके। बाद में पुलिस ने गहनता से उस स्थान की जाँच−पड़ताल की, किन्तु परिणाम निराशाजनक रहा। भूगर्भ वेत्ताओं ने भी बारीकी से उस क्षेत्र की छान−बीन की, पर वो लोग किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुँच सके। खोज कार्य महीनों चलता रहा, किन्तु किसी तरह का कोई सूत्र−संकेत ढूँढ़ा नहीं जा सका।

girl-843076_640

इसके लगभग दस महीने बाद, डेविड के पुत्र−पुत्री एक दिन उसी घास के मैदान में घूम रहे थे कि उन्होंने देखा कि जिस स्थान से उनके पिता गायब हुए थे, वहाँ लगभग 20 फुट व्यास का एक बड़ा गोला बना हुआ था।

गोले के अंदर लम्बी−लम्बी जंगली घासें उगी हुई थीं। बाहर की घासों को पशु भली−भाँति चर चुके थे, किन्तु गोले के भीतर की इन घासों को खाने की हिम्मत किसी ने नहीं की थी। इसी बीच किसी अनजान कारण से लड़की चिल्ला उठी−”पिताजी! पिताजी !! क्या आप यहीं कहीं पास में हैं?” चार−पाँच बार ऐसा कहने के बाद उसे अपनी पुकार के निरर्थक होने का आभास हुआ और वह वहाँ से चलने को ही थी कि अचानक एक स्वर सुनाई पड़ा, जिसमें सहायता की याचना थी। आवाज कहीं दूर से आती मालूम पड़ रही थी, पर वह इस दुनिया की नहीं थी। जब उन दोनों ने इसकी जानकारी अपनी माँ को दी, तो वह कई दिनों तक वहाँ आती और पुकारती रही। उसे हर गुहार का जवाब मिलता। धीरे−धीरे आवाज धीमी पड़ती गई और एक दिन बिलकुल बंद हो गई। वैज्ञानिक इस घटना की व्याख्या यह कहकर करते हैं कि ऐसा दो लोकों या ब्रह्मांडों के बीच की विभाजन−फलक (Dividing Plane) पर किसी छिद्र की उपस्थिति के कारण होता है।

worm-hole-644117_640

दुर्भाग्य से यदि कोई व्यक्ति उस छिद्र के आस-पास भी पहुँच जाय, तो वह उससे खिंच कर किसी अन्य लोक या ब्रह्माण्ड में चला जायेगा, जहाँ से उसकी वापसी की संभावना नहीं के बराबर होगी, पर यदि किसी प्रकार ऐसा संभव हुआ भी, तो उस व्यक्ति की स्थिति वैसी ही होगी, जैसी किसी स्मृति−लुप्त व्यक्ति की, अर्थात् वह घटना से पूर्व, मध्य और पश्चात् की सारी बातें भूल चुका होगा।

एक अन्य संभावना प्रकट करते हुए वैज्ञानिक कहते हैं कि ऐसे व्यक्ति के लिए बाहर आने का एक दूसरा तरीका यह हो सकता है कि वह अतीन्द्रिय शक्ति से संपन्न हो। इस सामर्थ्य के द्वारा वह दो संसारों को अलग करने वाली दीवार में एक मानसिक शक्ति का धक्का लगाकर दरवाजा उसी प्रकार खोलने में समर्थ हो सकेगा, जिस प्रकार चाबी ताले को एक झटके के साथ खोल लेती है। यदि कोई ऐसी विभूति अनजाने में अथवा असावधानी वश कभी दिक्−काल के भँवर में फँसी भी, तो वह उसी तरह उससे सुरक्षित बाहर आ जायेगी, जैसे गोताखोर समुद्र से, किन्तु इसके लिए उस द्वार को ढूँढ़ निकालना आवश्यक होगा, जिसके द्वारा वह उस दूसरे लोक में पहुँच गया। यदि इसमें वह असफल रहा, तो उससे बाहर निकलने में कभी किसी प्रकार से सफल न हो सकेगा।

अन्य रहस्यमय आर्टिकल्स पढ़ने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें
https://rahasyamaya.com/how-aliens-move-and-how-they-disappear/
https://rahasyamaya.com/mysterious-relationship-of-hitler-with-aliens/
https://rahasyamaya.com/was-interstellar-inspired-by-ancient-indian-cosmology-universe-black-holes-time-space-vedas-god-world/
https://rahasyamaya.com/strange-and-mysterious-divine-coincidence/

You can find the Universe, Time, Space and Big Bang Theory related articles through the following searches
universe mysteries, Top Ten Mysteries of the Universe, Astronomy’s 50 Greatest Mysteries, Top 10 Unsolved Mysteries of Science, Universe, Anti-Universe, Anti Universe, Parallel Universe, Universe, Big Bang Theory, Theory of relativity, Tim, Space, Einstein, Albert Einstein, Time-Space Theory, Time-Space Continuum, The 18 Biggest Unsolved Mysteries in Physics, 10 Interesting Mysteries of the Universe, 10 Interesting Mysteries of the Universe, big bang theory, ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति, ब्रह्माण्ड विज्ञान, ब्रह्माण्ड क्या है, ब्रह्माण्ड की रचना, ब्रह्माण्ड का रहस्य, ब्रह्माण्ड पुराण, ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति कैसे हुई, ब्रह्माण्ड की जानकारी, ब्रह्माण्ड कैसे बना, ब्रह्माण्ड इमेज, ब्रह्माण्ड रहस्य, ब्रह्माण्ड के रहस्य, ब्रह्मा और ब्रह्माण्ड, ब्रह्माण्ड: क्या? क्यों? कैसे?, ब्रह्माण्ड: कहाँ है इसका ओर-छोर, ब्रह्माण्ड किसे कहते है, ब्रह्माण्ड की अद्भुत आकाशगंगाएं, ब्रह्माण्ड In English, बिग बैंग सिद्धांत, जानिये ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति कैसे हुई, सृष्टि रचना, बिग बैंग थ्योरी इन हिंदी, पृथ्वी की उत्पत्ति कैसे हुई, ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति कैसे हुई, Theory of Universe Origin, ब्रह्माण्ड, विज्ञान और ब्रह्माण्ड के रहस्य, ब्रह्माण्ड किसे कहते हैं, आधारभूत ब्रह्माण्ड, ब्रह्माण्ड विज्ञान, सामानांतर ब्रह्माण्ड, प्रति ब्रह्माण्ड, प्रति-ब्रह्माण्ड, आखिर कितने ब्रह्माण्ड हैं?, ब्रह्माण्ड के बाहर क्या है?, क्या इस ब्रह्माण्ड में सचमुच कोई ईश्वर है?, ब्रह्माण्ड किसे कहते हैं, सामानांतर ब्रह्माण्ड क्या है? आइंस्टीन, अल्बर्ट आइंस्टीन, वेद, पुराण, संहिता, ऋषि, मुनि