भानगढ़ के किले का रहस्य


r5teभारत का एक ऐसा किला, जहाँ प्रवेश करने वाले को पहले से ही चेतावनी दे दी जाती हो कि सूर्योदय के पहले और सूर्यास्त के पश्चात् इस किले के आस-पास भी न फटकें अन्यथा इस क्षेत्र में आप के साथ कुछ भी भयानक घट सकता है, सिर्फ़ भानगढ़ में ही हो सकता है | ऐसा माना जाता है की भानगढ़ के इस किले और आस-पास के क्षेत्र में भूत प्रेतों का बसेरा है |

भारतीय पुरातत्व विभाग ने इस खंडहर को संरक्षित कर दिया है | यहाँ पर महत्वपूर्ण बात ये है की वैसे तो पुरातत्व विभाग ने हर संरक्षित क्षेत्र में अपने ऑफिस बनवाये हैं लेकिन इस किले के संरक्षण के लिए पुरातत्व विभाग ने अपना ऑफिस भानगढ़ से कुछ किलोमीटर दूर बनवाया है |

राजस्थान में जयपुर और अलवर के बीच स्थित भानगढ़ के किले के बारे में वहाँ के क्षेत्रीय लोग बताते हैं की रात के समय इस किले से कई तरह की भयानक आवाजें आती हैं | साथ ही यह भी कहा जाता है कि इस किले के अन्दर जो भी गया वो आज तक जीवित नहीं आया लेकिन इसका रहस्य क्या है ये आज तक कोई नहीं जान पाया | सिर्फ कुछ मिथक? हैं जो भानगढ़ के अतीत पर प्रकाश डालते हैं |

bhangarhएक मिथक के अनुसार भानगढ़ गुरु बालूनाथ द्वारा एक शापित स्थान है | उन्होंने ही इसके मूल निर्माण की अनुमति दी थी लेकिन साथ ही ये चेतावनी भी दी थी की महल की ऊंचाई इतनी न रखी जाये कि इसकी छाया उनके ध्यान करने वाल वाले स्थान से आगे निकल जाए अन्यथा पूरा नगर ध्वस्त हो जाएगा लेकिन वहाँ के राजवंश के राजा अज़ब सिंह ने गुरु बालूनाथ की इस चेतावनी पर ध्यान नहीं दिया और उस महल की ऊंचाई बढ़ा दी जिसकी वजह से महल की छाया ने गुरु बालूनाथ के ध्यान स्थान को ढक लिया और तभी से ये महल शापित हो गया |

एक दूसरे मिथक के अनुसार राजकुमारी रत्नावती जिसकी सुन्दरता पूरे राजपूताने में अद्वितीय थी, वह जब विवाह योग्य हो गयी तो उसे जगह जगह से विवाह के प्रस्ताव आने लगे | एक दिन एक तांत्रिक की निगाह रत्नावती पर पडी वह उस पर मोहित हो गया और उसने राजकुमारी पर तंत्र शक्ति का दुरुपयोग करके उसको प्राप्त करने की ठान ली |

BhangarhSomeshwarTempleवह तांत्रिक राजकुमारी की हर छोटी बड़ी जानकारी जुटाने लगा | एक दिन उसने देखा की राजकुमारी का नौकर राजकुमारी के लिए इत्र खरीद रहा है, तांत्रिक ने धोखे से उस इत्र में अपने काले जादू के मंत्रो का प्रयोग किया लेकिन राजकुमारी के एक विश्वासपात्र ने उसे ऐसा करते हुए देख लिया और राजकुमारी को उसके बारे में बता दिया |

राजकुमारी ने उस इत्र की बोतल को एक चट्टान पे रखा और तांत्रिक को मारने के लिए एक पत्थर लुढका दिया लेकिन मरने से पहले उस तांत्रिक ने समूचे भानगढ़ को नष्ट होने का श्राप दे दिया और उसका श्राप सत्य साबित हुआ |

ये सारी कहानिया मिथक हो सकती हैं लेकिन प्रत्यक्षदर्शियों के अनुभव रौंगटे खड़े कर देने वाले हैं | कुछ लोगो ने तो सैनिको की पूरी एक टोली के चलने की आवाज, उनके वस्त्रो की आवाज और उनके अस्त्र-शस्त्रों के खनकने की आवाजे वहाँ सुनी हैं | भानगढ़ के किले को भारत के सबसे डरावने स्थानों में से एक माना जाता है इसलिए यहाँ घूमने से पहले ये मत भूलियेगा की ये कोई पर्यटन स्थल नहीं है |