प्राचीन गुप्त विद्याएं

क्या लोहे को सोने में बदलना संभव ...

तीसरा व अन्तिम भाग... इन प्रणव रुपी सूर्य की दो अवस्थाएं हैं | एक अवस्था में इनकी रश्मियाँ चारो ओर विकीर्ण यानि फैली हुई हैं और दूसरी अवस्था में इनकी समस्त रश्मियाँ संहृत होकर मध्यबिंदु में विलीन हो गयी हैं | ये रश्मियाँ एकदम रास्तों के जैसे हैं | जिस तरह से रास्ता एक शहर से दूसरे शहर तक फैला रहता है ठीक उसी तरह से ये सारी रश्मियाँ भी इस लोक से परलोक ...

 More...

वैमानिक शास्त्र: प्राचीन भारतीय ग्रंथों में आये विमानों का रहस्य

प्रकृति की बनायी इस सृष्टि में जहाँ हमारी पहुँच नहीं, अक्सर उनका रहस्य हमें आकर्षित ...

 More...

नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियाँ

दुनिया भर के लोगों की भविष्यवाणियाँ एक तरफ़ और नास्त्रेदमस (Nostradamus) की भविष्यवाणियाँ ...

 More...

भाग-२ (क्या लोहे को सोने में बदलना संभव है ?)

ब्रह्माण्ड और प्रति-ब्रह्माण्ड “तुम लोगों ने शास्त्रों में जिन विद्याओं के ...

 More...

क्या लोहे को सोने में बदलना संभव है ?

बचपन से हम ‘पारस पत्थर’ की कहानियाँ सुनते चले आएं हैं कि इस जादुई पत्थर में लोहे ...

 More...

मरणोत्तर जीव-सत्ता के गति का रहस्य

आज के मनुष्य की समस्त प्रकार की समस्याओं एवं कष्टों का मुख्य कारण इस बात में विश्वास ...

 More...

सर्प राग का रहस्य

सुप्रसिद्ध अंग्रेज गायिका श्रीमती वाट्सन हग्स एक बार अपने दरवाजे पर बैठी एक ...

 More...

योगनिद्रा – एक रहस्यमय विद्या

स्वप्नों द्वारा अपने किसी प्रिय पात्र को पूर्वाभास कराना, किसी होने वाली घटना ...

 More...

मरे हुए को जिन्दा करने की विद्या : मृत संजीवनी विद्या

मृत्युंजय मन्त्र साधना और मृत संजीवनी मन्त्र साधना दोनों अलग अलग साधना है ! हमारे ...

 More...