शुम्भ, निशुम्भ, चण्ड, मुण्ड और रक्तबीज का वध देवी ने किस प्रकार किया

शुम्भ, निशुम्भ, चण्ड, मुण्ड और रक्तबीज का वध देवी ने किस प्रकार किया

महामुनि मेधा ने राजा सुरथ और समाधि वैश्य को महा सरस्वती का चरित्र इस प्रकार सुनाया। प्राचीन काल में शुम्भ …

Read moreशुम्भ, निशुम्भ, चण्ड, मुण्ड और रक्तबीज का वध देवी ने किस प्रकार किया

सूर्य भगवान कौन हैं और उनके 12 नाम क्या हैं

surya

‘अवतार’ शब्द ‘अव’ उपसर्गपूर्वक ‘तृ’ धातु में ‘घ´’ प्रत्यय के संयोग से निष्पन्न हुआ है, जिसका शाब्दिक अर्थ है – …

Read moreसूर्य भगवान कौन हैं और उनके 12 नाम क्या हैं

श्री रामानन्दाचार्य जी एवं बारह महा भागवतों की कथा

श्री रामानन्दाचार्य जी एवं द्वादश महाभागवतों का अवतार

भगवद्वचनों के अनुसार अधर्म में विशेष वृद्धि के कारण जगतरूपी भगवदीय बगीचा जब समय से पूर्व ही उजड़ने लगता है …

Read moreश्री रामानन्दाचार्य जी एवं बारह महा भागवतों की कथा

सूर्य मंत्र, जो वेदों में आये हैं, उनके जप एवं प्रभाव

सूर्य मंत्र

भगवान सूर्य की स्तुति में भक्त प्रातःकाल प्रार्थना करते हुए कहता है कि ‘हे भगवान सूर्य! मैं आपके उस श्रेष्ठ …

Read moreसूर्य मंत्र, जो वेदों में आये हैं, उनके जप एवं प्रभाव